इश्क़ है या कुछ और ये पता नहीं, पर जो तुमसे है किसी और से नहीं

तेरा होना ही मेरे लिये खास है, तू दूर ही सही मगर मेरे दिल के पास है

तुझसे मोहब्बत कुछ अलग सी है मेरी, तुझे खयालो में नहीं दुआओ में याद करते है

ना जाने क्यों तुझे देखने के बाद भी, तुझे ही देखने की चाहत रहती है

तुम शायरी की बात करती हो, मैं तो बातें भी कमाल करता हूँ

मैं आईनों से मायूस लौट आया था, मगर किसी ने बताया बहोत हसीन हूँ मैं

कहते थे तुझको लोग मसीहा मग़र  यहां, एक शख्स मर गया तुझे देखने के बाद

दिल से पूछो तो आज भी तुम मेरे ही हो, ये ओर बात है कि किस्मत दगा कर गयी

हमें शायर समझ के यूँ नजर अंदाज मत करिये, नजर हम फेर ले तो हुस्न का बाजार गिर जायेगा

तुम्हारा इश्क़ मेरे लिए हवा जैसा है जरा सा कम हो तो सांसे रुकने लगती हैं

प्यार वो नही जो दुनिया को दिखाया जाए, प्यार वो है जो दिल से निभाया जाए।

हाथ थामे रखना दुनिया में भीड़ भारी है, खो ना जाऊं कहीं मै, ये जिम्मेदारी तुम्हारी है

ऐसे ही हिंदी शायरी पढ़ने के लिए निचे दिए लिंक पर क्लिक कीजिये