यहाँ पर गुलज़ार साहब की लिखी हुई बेस्ट शायरिया दी गई है इसमें लव शायरी, Romantic Shayari, दर्द भरी शायरी है इसके अलवा यहाँ पर Two Line Gulzar Sshayari, Gulzar Shayari,Gulzar Hindi Shyari, Gulzar Urdu Shayari दी गई है

Bahut Mushkil Se Karata Hoon Gulzar Sad Shayari

Bahut Mushkil Se Karata Hoon
Teri Yaadon Ka Kaarobaar
Maana Munaafa Kam Hai
Par Guzaara Ho He Jaata Hai
बहुत मुश्किल से करता हूँ
तेरी यादों का कारोबार
माना मुनाफा कम है
पर गुज़ारा हो ही जाता है

 

Gulzar Sad Shayari
Bahut Mushkil Se Karata Hoon Gulzar Sad Shayari
Kal Phir Chaand Ka Khanjar- Gulzar Sad Shayari Status

Kal Phir Chaand Ka Khanjar Ghop Ke Seene Mein

Raat Ne Meri Jaan Lene Ki Koshish Ki

कल फिर चाँद का ख़ंजर घोंप के सीने में
रात ने मेरी जाँ लेने की कोशिश की

Kal Phir Chaand Ka Khanjar- Gulzar Sad Shayari Status

Gulzar Shayari On Life

Hansata To Main Roz Hoon
Magar Khush Hue Zamaana Ho Gaya
हँसता तो मैं रोज़ हूँ
मगर खुश हुए ज़माना हो गया

 

Hansata To Main Roz Hoon- Gulzar Shayari On Life

Log Kahate Hai Ki- Gulzar Best Shayari

Log Kahate Hai Ki
Khush Raho
Magar Majaal Hai
Ki Rahane De
लोग कहते है की
खुश रहो
मगर मजाल है
की रहने दे

 

Log Kahate Hai Ki- Gulzar Best Shayari

Log Kahate Hai Ki- Gulzar Best Shayari

Milata To Bahut Kuchh Hai- Gulzar Sad shayari

Milata To Bahut Kuchh Hai
Zindagi Mein
Bas Ham Ginati Unhee Kee
Karate Hai Jo Haasil Na Ho Saka
मिलता तो बहुत कुछ है
ज़िन्दगी में
बस हम गिनती उन्ही की
करते है जो हासिल न हो सका

 

Milata To Bahut Kuchh Hai- Gulzar Sad shayari

Milata To Bahut Kuchh Hai- Gulzar Sad shayari

 

Ek He Khvaab Ne Saaree Raat- Sad Shayari-Gulzar

Ek He Khvaab Ne Saaree Raat Jagaaya Hai
Mainne Har Karavat Sone Kee Koshish Ki
एक ही ख़्वाब ने सारी रात जगाया है
मैंने हर करवट सोने की कोशिश की

 

Ek He Khvaab Ne Saaree Raat- Sad Shayari-Gulzar

Ek He Khvaab Ne Saaree Raat- Sad Shayari-Gulzar

Ek Sitaara Jaldi-Jaldi Doob Gaya – Gulzar Shayari

Ek Sitaara Jaldi-Jaldi Doob Gaya
Main Ne Jab Taare Ginane Ki Koshish Ki
एक सितारा जल्दी-जल्दी डूब गया
मैं ने जब तारे गिनने की कोशिश की

 

Ek Sitaara Jaldi-Jaldi Doob Gaya - Gulzar Shayari

Ek Sitaara Jaldi-Jaldi Doob Gaya – Gulzar Shayari

 

Naam Mira Tha Aur Pata Apane Ghar Ka- Gulzar Shayari

Naam Mira Tha Aur Pata Apane Ghar Ka
Us Ne Mujh Ko Khat Likhane Ki Koshish Ki
नाम मिरा था और पता अपने घर का
उस ने मुझ को ख़त लिखने की कोशिश की

 

Naam Mira Tha Aur Pata Apane Ghar Ka- Gulzar Shayari

Naam Mira Tha Aur Pata Apane Ghar Ka- Gulzar Shayari

 

Phool Ne Tahanee Se Udane Kee Koshish Ki-Gulzar Sad Shayari

Phool Ne Tahanee Se Udane Kee Koshish Ki
Ik Tair Ka Dil Rakhane Kee Koshish Ki
फूल ने टहनी से उड़ने की कोशिश की
इक ताइर का दिल रखने की कोशिश की

 

Phool Ne Tahanee Se Udane Kee Koshish Ki-Gulzar Sad Shayari

Phool Ne Tahanee Se Udane Kee Koshish Ki-Gulzar Sad Shayari

 

Kyo Itne Lfzo Mein Mujhe Chunte Ho- Gulzar Shayari Status

Kyo Itne Lfzo Mein Mujhe Chunte Ho
Itnti Eente Lgati Hai Kya Ek Khyal Dfananae Mein
क्यों इतने लफ्ज़ो में मुझे चुनते हो
इतनी ईंट लगती है क्या एक ख्याल दफनाने में

 


Kyo Itne Lfzo Mein Mujhe Chunte Ho- Gulzar Shayari Status

 
मैंने दबी आवाज़ में पूछा – “मुहब्बत करने लगी हो?”
नज़रें झुका कर वो बोली – “बहुत

 

gulzar love shayari, gulzar hindi shayari
Gulzar Love Shayari

 

अहमियत दी तो खुद को कोहिनूर मानने लगे, 

काँच के टुकड़े भी क्या वहम पालने लगे…

 

Ahamiyat Di To Khud Ko Kohinoor Maanane Lage, 

Kaanch Ke Tukade Bhee Kya Waham Paalane Lage.

 

gulzar shayari
Gulzar Sad Quotes

 

मुझे फुर्सत कहाँ की मौसम सुहाना देखूं 

तेरी यादों से निकलूँ तब तो ज़माना देखूं 

 

Mujhe Fursat Kaha Ki Mausam Suhaana Dekhoon,

Teri Yaadon Se Nikloon Tab To Zamaana Dekhoon.

 

 

“सादगी इतनी भी नहीं है अब बाकी मुझमें

कि वक़्त गुज़ारे और मैं मोहब्बत समझू”

 

“Saadgi Itni Bhi Nhi Hai, Ab Baki Mujhmein

ki Waqt Guzare Aur Mein Mohabbat Samjhu” 

Gulzar Shayari

“मिलो एक बार को तुम शिदत से

एक बात करनी है

तुझ से गले लग कर तेरी ही

शिकायते हज़ार करनी है”

 

“Milo Ek Bar Ko Tum Shidt Se

Ek Bat Karni Hai 

Tujh Se Gle Lag Kar teri Hi 

Shikayte Hzar Krni Hai”

Best Gulzar Quotes in Hindi

“लफ्ज़ जब बरसते है

बन कर बूंदे मौसम कोई भी हो

मन भीग ही जाता है”

 

Laphz Jab Barasate Hai

Ban Kar Boonde Mausam Koi  Bhi Ho

Man Bheeg Hee Jaata Hai”

Best Gulzar Quotes in Hindi

Gulzar quotes in Hindi

 

“शाम से आँख में नमी सी है

आज फिर आप की कमी सी है

दफ़न कर दो हमें के साँस मिले

नब्ज़ कुछ देर से थमी सी है”

 

Shaam Se Aankh Mein Namee See Hai

Aaj Phir Aap Ki Kami Si Hai

Dafan Kar Do Hamein Ki Saans Mile

Nabz Kuchh Der Se Thamee Si Hai”

Gulzar Sad Shayari, gulzar quotes, gulzar hindi shayari
Gulzar Sad Shayari

“मैं दिया हूँ 

मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं…

हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं”

 

Main Diya Hoon,

Mere Dushmani To Sirf Andhere Se Hain,

Hawa To Bewajah Hi Mere Khilaf Hain.

gulzar shayari, gulzar quotes, gulzar hindi shayari, gulzar urdu shayari
Gulzar Shayari

 

“हम तो समझे थे कि हम भूल गए हैं 

उन को क्या हुआ आज ये 

किस बात पे रोना आया”

 

Ham To Samajhe The Ki Hum Bhool Gye Hain Un Ko,

Kya Hua Aaj Ye, 

Kis Baat Pe Rona Aaya.

gulzar shayari, gulzar hindi shayari, gulzar urdu shayari
Gulzar Sad Quotes

 

“आया था एक शख्स मेरा दर्द बांटने, 

रूकसत हुआ तो अपना भी दर्द मुझे दे गया”

 

Aaya Tha Ek Shakhs Mera Dard Bane, 

Rukasat Hua To Apana Bhi Dard Mujhe De Gaya.

gulzar shayari,gulzar poetry,gulzar shayari in hindi,gulzar ki shayari,gulzar quotes in hindi,gulzar shayari on life,gulzar poetry in hindi
Gulzar poetry in Hindi

 

“मोहब्बत की है तुमसे बेफिक्र रहो नाराज़गी हो सकती है पर, 

नफरत कभी नहीं होगी”

gulzar shayari, gulzar hindi shayari, gulzar urdu shayari
Gulzar ki Shayari

 

“बड़ा नाम है मेरा, मेरी गलियों में, 

बदनाम तो हम उनकी गलियों में है”

gulzar shayari,gulzar poetry,gulzar shayari in hindi,gulzar ki shayari,gulzar quotes in hindi,gulzar shayari on life,gulzar poetry in hindi
gulzar shayari on life

 

“मै तुम्हे चांद कहूं ये तो मुमकिन

मगर लोग तुम्हे रात भर देखे

ये मुझे गवारा नहीं”

gulzar hindi shayari
Gulzar sad shayari

  

“सोचकर बाजार गया था अपने कुछ आंसू बेचने, 

हर खरीददार बोला अपनों के दिए

 तोहफे बेचा नहीं करते”

gulzar shayari,gulzar poetry,gulzar shayari in hindi,gulzar ki shayari,gulzar quotes in hindi,gulzar shayari on life,gulzar poetry in hindi
gulzar quotes in hindi

 

“कपड़ों से तो सिर्फ पर्दा होता है साहब! 

हिफ़ाज़त तो निगाहों से होती है”

gulzar shayari,gulzar poetry,gulzar shayari in hindi,gulzar ki shayari,gulzar quotes in hindi,gulzar shayari on life,gulzar poetry in hindi
gulzar shayari on life

 

“फिक्र है इज्जत की तो मोहब्बत छोड़ दो जनाब, 

आओगे इश्क़ की गली में तो चर्चे जरूर होंगे”

gulzar shayari,gulzar poetry,gulzar shayari in hindi,gulzar ki shayari,gulzar quotes in hindi,gulzar shayari on life,gulzar poetry in hindi
gulzar shayari sad

 

“उग्र नहीं थी मेरी मोहब्बत करने की.. 

मुर्शद… बस एक चेहरा देखा,

और गुनाह कर बैठे”

gulzar shayari,gulzar poetry,gulzar shayari in hindi,gulzar ki shayari,gulzar quotes in hindi,gulzar shayari on life,gulzar poetry in hindi
gulzar poetry in Hindi

“मैं दिया हूँ 

मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं….

हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं”

gulzar sad shayari, gulzar hindi shyari
Gulzar Quotes

 

“जब भी ये दिल उदास होता है

जाने कौन आस-पास होता है”

gulzar hindi quotes, gulzar hindi shayari
Gulzar sad Quotes

 

“हँसता तो मैं रोज़ हूँ

मगर खुश हुए ज़माना हो गया”

Gulzar Hindi Sad Shayari
Gulzar Hindi Sad Shayari

 “भीड़ काफी हुआ करती थी महफ़िल में मेरी..

फिर मैं “सच” बोलता गया और लोग उठते चले गए “

gulzar sad hindi poem
Gulzar Quotes

  

“मैं चुप कराता हूं हर शब उमड़ती बारिश को

मगर ये रोज़ गई बात छेड़ देती है”

gulzar sad shayari

 “शोर की तो उम्र होती हैं….

ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं”

 

gulzar shayari, gulzar quotes
Gulzar Sad Shayari

 

 

“गुलाम थे तो

हम सब हिंदुस्तानी थे

आज़ादी ने हमें

हिन्दू मुसलमान बना दिया”

 

“खाली कागज़ पे क्या तलाश करते हो?

एक ख़ामोश-सा जवाब तो है”

 

“वो मोहब्बत भी तुम्हारी थी

वो नफ़रत भी तुम्हारी थी

हम अपनी वफ़ा का इंसाफ किससे मांगते

वो शहर भी तुम्हारा था

वो अदालत भी तुम्हारी थी”

 

“याद आएगी हर रोज़ मगर

तुझे आवाज़ ना दूँगा

लिखूँगा तेरे ही लिए हर ग़ज़ल

मगर तेरा नाम ना लूँगा”

 

“दिल के रिश्ते‍‍‍ हमेशा किस्मत से ही बनते है

वरना मुलाकात तो रोज  हजारों1000 से होती है”

 

“वह जो सूरत पर सबकी हंसते है¸

उनको तोहफे में एक आईना दीजिए”

 

“कुछ शिकायत बनी रहे¸ तो बेहतर है¸

चाशनी में डूबे रिश्ते वफादार नही होते”

 

“तेरी तरह बेवफा निकले मेरे घर के आईने भी¸

खुद को देखूं  तेरी तस्वीर नजर आती है”

 

“सच को तमीज ही नही बात करने की¸

झूठ को देखो कितना मीठा बोलता है”

 

“कुछ ऐसे हो गए है इस दौर के रिश्ते¸

आवाज अगर तुम ना दो तो बोलते वह भी नही”

 

“चुप हो तो पत्थर ना समझना मुझे¸

दिल पर असर हुआ है किसी अपने की बात का”

 

“कभी किसी का ख्याल थे हम भी, 

गये दिनों में कमाल थे हम भी” 

 

“नफ़रत करने से बढेगी अहमियत उनकी, 

क्यों न माफ़ कर के शर्मिंदा कर दिया जाये”

Hath Chhute Bhi To Riste Nhi- Gulzar Shyari

हाथ छूटें भी तो रिश्ते नहीं छोड़ा करते 

वक़्त की शाख़ से लम्हे नहीं तोड़ा करते

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Hath Chhute Bhi To Riste Nhi- Gulzar Shyari

Tumhre Khwab Se Har Shab Lipat Ke- Gulzar Shayari

तुम्हारे ख़्वाब से हर शब लिपट के सोते हैं 

सज़ाएँ भेज दो हम ने ख़ताएँ भेजी हैं

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Tumhre Khwab Se Har Shab Lipat Ke- Gulzar Shayari

Yun BHi Ek Bar To Hota Ki- Gulzar Shayari in Hindi

यूँ भी इक बार तो होता कि समुंदर बहता कोई

 एहसास तो दरिया की अना का होता

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Yun BHi Ek Bar To Hota Ki- Gulzar Shayari in Hindi


Mein Sabse Chup Krata Hun-Gulzar Ki Shayari

मैं सबसे चुप कराता हूँ 

हर शब उमडती बारिश को 

मगर ये रोज़ गई

बात छेड़ देती है

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Mein Sabse Chup Krata Hun- Gulzar Very sad Shayari


Karwat Tamam Rat Bhar Bdlta Mein Rh Gya-Gulzar Shayari On Life

करवट तमाम रात भर बदलता में रह गया, 

बिस्तर में उसकी यादों के काटें थे बेशुमार

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Karwat Tamam Rat Bhar Bdlta Mein Rh Gya-Gulzar Shayari On Life

 

Dhadkane Mein Bse Hote Hai Kuch Log-Gulzar Shayari

धड़कने में बसे होते है कुछ लोग

जुबान पे नाम लाना ज़रूरी नही होता

इश्क है तुमसे और कबूल है 

कहो तो इज़हार कर दू

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Dhadkane Mein Bse Hote Hai Kuch Log-Gulzar Shayari

Ek Sham Bichde The Tumhe-Gulzar Shayari

एक शाम बिछड़े  थे तुमसे

अब लगता है हर शाम वही है

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,Gulzar Shayari On Life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari
Ek Sham Bichde The Tumhe-Gulzar Shayari

 

“ज़िंदगी यूँ हुई बसर तन्हा, 

क़ाफ़िला साथ और सफ़र तन्हा”

gulzar ki shayari ,gulzar shayari on life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life
Two Line Gulzar Hindi Shayari

 

“आप के बाद हर घड़ी हम ने,

आप के साथ ही गुज़ारी है”

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,gulzar shayari on life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari ,gulzar romantic shayari ,love shayari by gulzar ,gulzar shayari in urdu ,gulzar love shayari in hindi
Gulzar shayari in hindi

“कभी जिंदगी एक पल में गुजर जाती हैं, 

और कभी जिंदगी का एक पल नहीं गुजरता”

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari,gulzar shayari on life
gulzar shayari

“लाज़मी है मेरा भी गुरुर करना 

मुझे उसने चाह था, जिसके चाहने वाले हज़ार थे”

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,gulzar shayari on life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari
sad gulzar shayari

“सुनो….ज़रा रास्ता तो बताना

मोहब्बत के सफ़र से, वापसी है मेरी”

Gulzar shayari, two line gulzar shayari, gulzar shayari in hindi,
Gulzar Shayari

 

“निगाहों से भी चोट लगती है जनाब जब 

देख कर भी कोई अनदेखा कर देता है”

gulzar shayari, gulzar quotes,gulzar urdu poetry
gulzar urdu poetry

 

“इतनी ठोकरे देने का शुक्रिया ए जिंदगी

चलने का न सही सँभलने का हुनर तो आ ही गया”

Gulzar Shayari,

 

“कुछ ऐसे हो गए है इस दौर के रिश्ते

आवाज अगर तुम ना दो तो बोलते वह भी नही”

gulzar shayari, gulzar quotes,gulzar urdu poetry
Gulzar Shayari-Gulzar Urdu Poetry

 

“लफ्ज़ो के भी ज़ायके होते है 

परोसने से पहले चख़  भी लेना चाहिए “

gulzar shayari ,gulzar shayari in hindi ,gulzar ki shayari ,gulzar shayari on life ,gulzar love shayari ,gulzar dil se shayari ,gulzar sad shayari ,gulzar shayari in hindi on life ,gulzar sahab ki shayari ,gulzar romantic shayari ,love shayari by gulzar
Two Line Gulzar Hindi Shayari